अमित शाह को कमान

| No Comments | Google
amit-shah.jpgजीत हमेशा से सुखद हुआ करती है। और अगर वो जीत कड़ी मेहनत के बाद सामने आई हो कहना ही क्या, सुख की मात्रा कई गुना बढ़ जाती है। लोकसभा में भारतीय जनता पार्टी की जीत इसी श्रेणी में आती है। कई नेताओ की कड़ी मेहनत के बाद भारतीय जनता पार्टी को वो मुकाम मिल गया जिसकी शायद किसी ने कल्पना भी न की हो। प्रधानमंत्री और बाकी मंत्रियों को उनके मेहनत का इनाम तो पहले ही मिल चूका था, पर वो व्यक्ति जिसने भारतीय जनता पार्टी को एक प्रदेश में सबसे ज्यादा सीटें दिलवाई उसे भी सम्मानित करना था। अमित शाह को वो सम्मान मिल गया है। उन्हें भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष बना दिया गया है। सेनापति के सम्मान से पार्टी पुरे सेना यानि पार्टी के कार्यकर्ताओं के मनोबल बढ़ने की उम्मीद कर रही होगी।
  
आने वाले दिनों में कई राज्यों में चुनाव होने वाले है। इनमे गुजरात से सटा प्रदेश महाराष्ट्र सबसे महत्वपूर्ण है। लगातार यहाँ कांग्रेस और एनसीपी की हुकूमत रही है। लोकसभा में अच्छे प्रदर्शन के बाद भाजपा पर यहाँ अच्छे प्रदर्शन का दबाव है। अच्छे संगठनकर्ता रहे अमित शाह से इन राज्यों के संगठन को मजबूत करने की उम्मीद पार्टी को होगी। अंतर्कलह और गुटबाज़ी भाजपा को हमेशा से परेशान करती रही है। अमित शाह के उत्तर प्रदेश में आने से पहले वहां का माहौल भी कुछ ऐसा ही था। मगर लोकसभा चुनाव के दौरान शाह ने जैसा प्रदर्शन पार्टी से करवाया आज उसी का इनाम उन्हें मिल गया है।

शाह को हमेशा से मोदी का करीबी माना गया है। गुजरात में वो मोदी के बाद सबसे शक्तिशाली नेता भी माने जाते रहे हैं। पार्टी से जुड़े कामों में मोदी की उनपर निर्भरता जगजाहिर है। अपने गृह मंत्री के कार्यकाल में शाह पर कई इलज़ाम भी लगे थे। कई इलज़ाम तो आज भी उनका पीछा कर रहे है। फर्जी मुठभेड़ों और हत्याओं के कई केस आज उनका पीछा नहीं छोड़ रहे हैं। विपक्ष इसे जरूर हथियार बनाएगा।

आने वाले दिनों जबकि भाजपा लोकसभा चुनाव जीत चुकी है उनके सामने सबसे बड़ी चुनौती इस जीत को कायम रखना है। इसके लिए संगठन की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है। अमित शाह को मिली कमान ने ये दिखाया है कि संगठन को भी सरकार के बराबर की तजिह दी जा रही है। संघ का समर्थन भी पूरी तरह अमित शाह के साथ है।

आगे शाह क्या निर्णय लेंगे ये देखना महत्वपूर्ण होगा। एक राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष बनने से उनकी जिम्मेवारी कई गुना बढ़ गयी है। उम्मीद है वो पार्टी के नज़र में खरे उतरेंगे।

Leave a comment